35 साल की शादी के बाद भी शिंजो आबे की पिता बन पाने की ख्वाहिश रह गई थी अधूरी

35 साल की शादी के बाद भी शिंजो आबे की पिता बन पाने की ख्वाहिश रह गई थी अधूरी

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।

देश विदेश ।

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का एक चुनावी कार्यक्रम के दौरान शुक्रवार को गोली मारे जाने के बाद निधन हो गया। सरकारी प्रसारणकर्ता ‘एनएचके’ ने यह जानकारी दी। एनएचके ने बताया कि आबे (67) को पश्चिमी जापान के नारा में शुक्रवार को भाषण शुरू करने के कुछ मिनटों बाद ही पीछे से गोली मार दी गयी थी।

आबे को विमान से एक अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनकी सांस नहीं चल रही थी और उनकी हृदय गति रुक गई थी। अस्पताल में बाद में उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

67 साल के शिंजो आबे को बचाने के लिए डाॅक्टर सुबह से कड़ी मशक्कत कर रहे ते लेकिन आबे जिंदगी की जंग हार गए। बता दें कि शिंजो आबे जापान के ऐसे प्रधानमंत्री थे जो सबसे लंबे समय तक पीएम के पद पर रहे। उन्होंने करीब 9 साल तक पीएम का पदभार संभाला और फिर 2020 में अपनी सेहत का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उनकी मौत के बाद से जापान में शोक की लहर छा गई है।

शिंजो आबे की पर्सनल लाइफ की बात करें तो वह एक राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखते है। शिंजो आबे की शादी 1987 में हुई थी। उनकी पत्नी का नाम अकी मात्सुजाकी उर्फ ​अक्की आबे है जो जापान की फेमस रेडियो जॉकी रह चुकीं है। दोनों की शादी को करीब 35 साल हो गए है लेकिन उनकी जिंदगी में एक इच्छा हमेशा अधूरी रह गई।

दरअसल, शिंजो आबे की पिता बनने की ख्वाहिश अधूरी रह गई थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक, अकी आबे ने एक ब्रिटिश रेडियो प्रोग्राम के दौरान बताया था कि वह दोनों किस तरह इनफर्टिलिटी से जूझ रहे हैं जो काफी तकलीफदेह था। हालांकि, इसका काफी समय तक इलाज भी कराया गया लेकिन कोई संतान नहीं हो सकी।