यात्रीगण ध्यान दें… 16 से 27 जुलाई तक मेरठ के भैंसाली अड्डे से नहीं मिलेंगी बसें

यात्रीगण ध्यान दें… 16 से 27 जुलाई तक मेरठ के भैंसाली अड्डे से नहीं मिलेंगी बसें

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।

मेरठ ।

मेरठ. कांवड़ यात्रा के मद्देनजर भैंसाली बस अड्डे और मेरठ डिपो की सभी यात्री बसें 16 जुलाई से सोहराबगेट और बाईपास पर बनाए अस्थायी बस स्टैंड पर स्थानांतरित हो जाएंगी। इसी तरह मवाना बस स्टैंड और बागपत बस स्टैंड समेत सभी निजी बसों को भी शहर से बाहर ही रोक दिया जाएगा। यानी 16 से 27 जुलाई तक यात्री बसों के शहर के अंदर प्रवेश पर रोक रहेगी।

अब दिल्ली, देहरादून और हरिद्वार जाने वाली सभी बसें गढ़ रोड स्थित सोहराब गेट बस अड्डे से ही चलेंगी। कांवड़ यात्रियों की संख्या बढ़ी तो बस स्टैंड 16 जुलाई से पहले भी स्थानांतरित किया जा सकता है। बस स्टैंड स्थानांतरित होने के बाद अक्सर भैंसाली बस स्टैंड से डग्गामार बसों का संचालन हो जाता है। ऐसी बसों पर भी दिल्ली रोड पर रोक लगा दी जाएगी।

– दिल्ली, देहरादून, मुजफ्फरनगर, हरिद्वार, अजमेर, अलवर, बालाजी धाम, आगरा, बरेली, लखनऊ के लिए सोहराब गेट बस डिपो से बस मिलेंगी।

– बागपत बालैनी के लिए बागपत बाईपास से बस पकड़ सकेंगे।

– बड़ौत के लिए बड़ौत बाईपास से बस मिलेंगी।

– सरधना, शामली के लिए कंकरखेड़ा बाईपास से बस मिलेंगी।

– मवाना बस स्टैंड से जाने वाली परीक्षितगढ़ की बसें अब यादगारपुर जेल चुंगी पुलिस चौकी के पास से जाएंगी।

– मवाना बस स्टैंड से जाने वाली मवाना, मीरापुर, हस्तिनापुर, बिजनौर की बसें अब गंगानगर थाने के पास से मिलेंगी।

– नौचंदी तिरंगा गेट से हापुड़, गुलावठी और बुलंदशहर जाने वाली बसें अब एल-ब्लाक जगदंबा हास्पिटल के पास से मिलेंगी।

कांवड़ियों की संख्या बढ़ने पर शहर में चलने वाली सिटी बसों को भी बंद करने का निर्णय लिया जाएगा। कांवड़ यात्रा को लेकर मंगलवार को शीर्ष अफसरों के नेतृत्व में बैठक कर अंतिम रूप दिया जाएगा। शहर की यातायात व्यवस्था इस तरह बनाई जा रही है, जिससे कांवड़ियों को किसी तरह की परेशानी न हो। साथ ही शहर भी यथावत चलता रहे।