गैस का दर्द है या हार्ट अटैक, इन लक्षणों से पहचानें तो बच सकती है जान

health

गैस का दर्द है या हार्ट अटैक, इन लक्षणों से पहचानें तो बच सकती है जान

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा।

खुद को सुरक्षित रखने के लिए लोगों को यह अंतर समझना बेहद जरूरी है कि एसिटिडी और गैस होने पर व्यक्ति को किस तरह का दर्द महसूस होता है और यह दर्द कैसे हार्ट अटैक के दौरान होने वाले दर्द से अलग है।

नई दिल्ली. आजकल बिगड़ा हुआ लाइफस्टाइल, स्ट्रेस और खानपान की गलत आदतें व्यक्ति को कम उम्र में ही हार्ट अटैक जैसे जानलेवा बीमारी का शिकार बना रही हैं। हाल ही में मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की भी कार्डियक अरेस्ट से मौत हुई है। ऐसे में लोगों के मन को एक सवाल बेहद परेशान कर रहा है कि आखिर छाती में होने वाला हार्ट अटैक का दर्द कैसे गैस या एसिडिटी के दर्द से अलग होता है। खुद को सुरक्षित रखने के लिए लोगों को यह अंतर समझना बेहद जरूरी है कि एसिटिडी और गैस होने पर व्यक्ति को किस तरह का दर्द महसूस होता है और यह दर्द कैसे हार्ट अटैक के दौरान होने वाले दर्द से अलग है। आइए आप भी अपने इस कन्फ्यूजन को दूर करते हुए इस फर्क को जानें।

हार्ट पेन के लक्षण-
-छाती में दर्द के साथ दबाव
-हल्का-हल्का महसूस करना या उबकाई आना
-घबराहट होना
-सांस लेने में दिक्कत

गैस में होने वाला दर्द अक्सर सीने के साथ-साथ पेट में भी होता है, इसके साथ पेट में सूजन, खट्टी डकार, भूख न लगना और मन मिचलाने जैसी समस्या हो सकती है।

बासी या दूषित खाना खा लेने से फूड पॉइजनिंग हो सकती है, जिससे सीने में गैस के बनती है और दर्द भी हो सकता है। साथ ही उल्टी और दस्त भी हो सकते है।

सामान्य चेस्ट पेन और हार्ट अटैक के दर्द में जानें फर्क, अलर्टनेस बचा सकती है जान