13 एक्सप्रेस-वे वाला देश का पहला राज्य बनने जा रहा उत्तर प्रदेश, जाने कितनो पर शुरू हुआ सफर

13 एक्सप्रेस-वे वाला देश का पहला राज्य बनने जा रहा उत्तर प्रदेश, जाने कितनो पर शुरू हुआ सफर

दी न्युज़ एशिया समाचार सेवा।

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करने जा रहे हैं। इसके साथ ही यूपी देश में सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे नेटवर्क वाला राज्य बनने जा रहा है। यहां 13 एक्सप्रेसवे बनने को हैं। 32 सौ किमी के कुल 13 एक्सप्रेसवे में से सात पर काम चल रहा है जबकि छह पर ट्रैफिक चल रहा है। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे यूपी का बहुत महत्वपूर्ण एक्सप्रेसवे है जबकि 594 किमी लंबे गंगा एक्सप्रेस वे पूरब और पश्चिम की दूरी को कम करेगा। इसके अलावा लखनऊ-कानपुर एक्सप्रेस वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे, गाजीपुर-बलिया-मांझीघाट एक्सप्रेस वे और दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस वे का निर्माण किया जा रहा है। आपातकाल में वायु सेना के विमानों की लैंडिंग और टेक ऑफ के लिए हवाई पट्टियां लखनऊ आगरा एक्सप्रेसवे वे, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे हैं।

गौरतलब है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के बाद अब गंगा एक्सप्रेसवे बनाने की तैयारी हो रही है। गंगा एक्सप्रेस वे मेरठ को प्रयागराज से जोड़ने वाला 594 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेसवे होगा जो देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे होगा। प्रयागराज में 2025 में लगने वाले महाकुंभ से पहले गंगा एक्सप्रेसवे को बनाकर चालू रखने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार की कोशिश है कि प्रयागराज महाकुंभ 2025 में दिल्ली से जाने वाले श्रद्धालु इसी हाईवे से होते हुए प्रयागराज पहुंचें।

गंगा एक्सप्रेस वे के लिए सभी जरूरी क्लीयरेंस मिल चुका है साथ ही साथ 95 फीसदी भूमि का भी अधिग्रहण किया जा चुका है। आने वाले दिनों में यूपी सरकार और भी एक्सप्रेसवे बनाने की तैयारी में है।