सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान में पांच दिन में मिले टीबी के 12 नये मरीज 

सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान में पांच दिन में मिले टीबी के 12 नये मरीज 

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा |

सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान में पांच दिन में मिले टीबी के 12 नये मरीज 

अभियान के लिए गठित 195 टीम जुटीं हैं टीबी मरीजों की खोज में

लक्षणों के आधार पर की जा रही टीबी की जांच

नोएडा, 28 नवम्बर 2023। राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम (एनटीईपी) के अन्तर्गत 23 नवम्बर से शुरू हुए सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान के तहत घर-घर टीबी रोगी खोजे जा रहे हैं। पिछले पांच दिनों में अभियान के दौरान 12 सक्रिय क्षय रोगी खोजे जा चुके हैं। सभी को पोर्टल पर दर्ज कर उनका उपचार शुरू कर दिया गया है। यह जानकारी जिला क्षय रोग अधिकारी (डीटीओ) डा. आर.पी. सिंह ने मंगलवार को दी।

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया- 23 नवम्बर से शुरू हुआ अभियान पांच दिसम्बर तक चलेगा। उन्होंने बताया- 23 से 27 नवम्बर तक घर-घर जाकर करीब 2.14 लाख लोगों टीबी स्क्रीनिंग गई, जिसमें लक्षणों के आधार पर 364 लोगों के बलगम की जांच की गई। जांच में 12 लोग पॉजिटिव मिले। उन्होंने बताया- अभियान के तहत जनपद की करीब 18.5 लाख आबादी के सापेक्ष करीब 3.92 लाख आबादी की टीबी की स्क्रीनिंग की जानी है। अभियान के तहत कुल आबादी का 20 प्रतिशत कवर किया जाएगा। इसके तहत करीब 98 हजार घरों पर एसीएफ टीम दस्तक देंगी। अभियान के लिए जनपद में 195 टीम गठित की गई हैं। हर टीम में तीन सदस्य हैं। हर टीम पर निगरानी रखने के लिए 39 सुपरवाइजर नियुक्त किये गये हैं। संपूर्ण अभियान पर नजर रखने के लिए नौ नोडल अधिकारी बनाये गये हैं। ज्ञात हो कि जनपद में नौ टीबी यूनिट -बिसरख, दादरी, भंगेल, दनकौर, जेवर, ममूरा, नोएडा, बरौला, नोएडा, राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) हैं।

अभियान में करें सहयोग, कराएं टीबी की जांच

डा. सिंह ने लोगों से अपील की है कि वह घर आने वाली एसीएफ टीम का सहयोग करें और लक्षणों के आधार पर जांच जरूर कराएं। दो हफ्ते से लगातार खांसी रहना, खांसी के साथ बलगम में खून आना, दो हफ्ते से ज्यादा बुखार रहना, वजन कम होना,रात में सोते समय पसीना आना, भूख कम लगना इत्यादि टीबी के लक्षण हैं। यदि परिवार में किसी के इससे मिलते जुलते लक्षण हैं तो छिपाएं नहीं, जांच जरूर कराएं। घर आने वाली टीम बलगम जांच के लिए डिब्बी देगी, जिसमें सुबह का पहला बलगम जांच के लिए देना है।

उन्होंने बताया- सबसे पहले घरों में एसीएफ अभियान चलाया जा रहा है। उसके बाद अनाथालय वृद्धाश्रम, नारी निकेतन, बाल संरक्षण गृह, मदरसा, नवोदय विद्यालय, कारागार, सब्जी मंडी, फल मंडी, लेबर मार्केट, निर्माणाधीन प्रोजेक्ट, ईंट भट्ठों, स्टोन क्रेशर, साप्ताहिक बाजारों में अभियान चलाया जाएगा।

 पीपीएम कोऑर्डिनेटर पवन भाटी ने बताया- 23 नवम्बर को 42903 लोगों की स्क्रीनिंग की गई, जिसमें टीबी के लक्षणों के आधार पर 38 लोगों बलगम के सैंपल लिये गये, जिसमें एक पॉजिटिव मरीज मिला। 24 नवम्बर को 42143 लोगों की स्क्रीनिंग में 83 लोगों के सैंपल लिये गये, जिसमें तीन मरीज मिले। 25 नवम्बर को 42636 लोगों की स्क्रीनिंग हुई, 76 सैंपल लिये, तीन मरीज मिले।  26 नवम्बर को 40975 लोगों  की स्क्रीनिंग में 77 सैंपल लिये गये, एक भी पॉजिटिव नहीं निकला। इसी तरह 27 नवम्बर को 45574 लोगों की स्क्रीनिंग की गई, 90 लोगों के बलगम के सैंपल लिये गये, जिसमें पांच नये मरीज चिन्हित हुए।