योगी कैबिनेट ने 22 प्रस्तावों को दी मंजूरी

योगी कैबिनेट ने 22 प्रस्तावों को दी मंजूरी

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा।

योगी कैबिनेट ने 22 प्रस्तावों को दी मंजूरी

 डीजी शिक्षा के अधीन होंगे बेसिक-माध्यमिक शिक्षा विभाग

लखनऊ।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में गुरुवार को लोक भवन में प्रदेश सरकार की कैबिनेट बैठक में शिक्षा विभाग को लेकर बड़े फैसले पर मुहर लगी। प्रदेश में महानिदेशक शिक्षा का ओहदा और बड़ा कर दिया गया है। कैबिनेट बैठक में गुरुवार को 23 प्रस्ताव रखे गए थे, जिनमें से 22 पर मुहर लगी है।
प्रदेश में अब बेसिक तथा माध्यमिक शिक्षा विभाग महानिदेशक स्कूल शिक्षा के अधीन होंगे। अभी तक इन दोनों विभाग के अलग-अलग निदेशक होते हैं। प्रदेश में अभी तक सरिता तिवारी माध्यमिक शिक्षा विभाग की कार्यवाहक निदेशक हैं, जबकि बेसिक शिक्षा विभाग में भी कार्यवाहक निदेशक शुभा सिंह हैं।
बेसिक शिक्षा मंत्री संदीप सिंह ने बताया कि महानिदेशक स्कूल शिक्षा अब बेसिक और माध्यमिक शिक्षा विभाग दोनों का काम देखेंगे। डीजी स्कूल के नियंत्रण में माध्यमिक और बेसिक शिक्षा के सभी विभाग और कार्यालय होंगे। सरकार ने प्रदेश में कक्षा एक से लेकर 12 तक की शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने के लिए यह फैसला किया है।
इन प्रस्तावों को मिली मंजूरी
- वाराणसी में पीपीपी मोड पर एकीकृत मंडल कार्यालय बनाने के लिए प्रस्ताव मंजूर किया है।
- कैबिनेट ने शीरा नीति को 2022-23 को मंजूरी दे दी है।
- डाटा सेंटर नीति 2021 को भी मंजूरी मिल गई है। इसकी संशोधित नीति पांच साल तक लागू रहेगी।
- स्टार्टअप नीति 2020 में संशोधन को कैबिनेट की मंजूरी दे दी गई है।