मंगलवार को धार्मिक स्थानों से लाउडसपीकर को उतारा गया 

मंगलवार को धार्मिक स्थानों से लाउडसपीकर को उतारा गया 

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा |

मंगलवार को धार्मिक स्थानों से लाउडसपीकर को उतारा गया 

 मेरठ। मुख्यमंत्री के आदेश  के बाद शहर में धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर केा उतारा गया। कई की आवाज को कम करने के निर्देश दिए गये।  वहीं कुछ की आवाज को तय मानक के अनुसार कम करा दिया।

मंगलवार को अधिकारियों के आदेश पर पुलिस धार्मिक स्थलों पर पहुंची और तय मानक से तेज आवाज करने वाले 11 लाउडस्पीकर को उतरवा दिया वही 30 लाउडस्पीकरों की आवाज कम कराई। अभियान के दौरान पुलिस अधिकारियों ने धर्मगुरुओं को सभी लाउडस्पीकरों की तय मानक के अनुसार धीमी आवाज के लिए कहा इस दौरान अधिकारियों ने कहा कि अगर धर्मगुरु आदेश का पालन नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ कार्यवाही भी की जा सकती है।जानकारी के अनुसार ध्वनि का स्तर दिन के समय 75 डेसीबल और रात के समय 70 डेसीबल होना चाहिए वही कमर्शियल: दिन में 65 डेसीबल और रात में 55 डेसीबल तय है।रेजिडेंशियल: दिन के वक्त ध्वनि का स्तर 55 डेसीबल और रात के समय 45 डेसीबल की सीमा है। साइलेंस जोन: दिन में 50 डेसीबल और रात में 40 डेसीबल तय सीमा के अनुसार है।

वही एडीजी राजीव ने एसएसपी रोहित सजवाण सहित एसपी सिटी पीयूष कुमार सिंह के साथ शहर का भ्रमण भी किया और धार्मिक स्थलों पर लगे लाउडस्पीकरों को बजवाकर चेक भी कराया। अधिकारियों को जिन लाउडस्पीकरों की आवाज से मानक से अधिक मिली उन्हें अधिकारियों ने तुरंत हटवा दिया। और बहुत से लाउडस्पीकरों की आवाज को काम भी कराया गया।