भारी मात्रा में नकली  प्रोटीन व इंजेक्शन बरामद

 भारी मात्रा में नकली  प्रोटीन व इंजेक्शन बरामद

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।

युवाओं के साथ खिलवाड़

एसओजी ने खैरनगर में दो दुकानों पर  की छापेमारी ।


 मेरठ। शहर में बड़े पैमाने में नकली प्रोटीन बेचकर युवाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। मंगलवार की शाम को एसपी क्राइम के नेतृत्व में एसओजी ने खैरनगर में दो दुकानों पर छापा मारकर भारी मात्रा में नकली प्रोटीन व ताकत के इंजेक्शन को बरामद किया है। दोनो दुकानदार मौके से फरार हो गये। टीम ने बरामद सामान को अपने कब्जे में लेकर दोनो दुकानदारों की तलाश आरंभ कर दी है। नकली सामना पकडे जाने से ड्रग्स विभाग पर प्रश्न चिन्ह लगाता दिखाई दे रहा है कि आखिरकार कैसे इतनी मात्रा ने नकली सामान बेचा जा रहा था।
 एसपी क्राइम अनित कुमार ने बताया खैरनगर में एटूजेड व एक्स्ट्रा पावर के नाम से  दाऊद व साहिल की दुकानें है जहां पर युवाओं के लिये प्रोटीन बेचा जाता था। उन्होने बताया कि सूचना मिल रही थी दोनो दुकानों पर नकली प्रोटीन बडे पैमाने में बेचा जा रहा है। सूचना के आधार पर दोनो दुकानों पर एसओजी
टीम ने छापा मारा । टीम ने वहां से बडी मात्रा में नकली प्रोटीन को बरामद किया है। जिसे अपने कब्जे में ले लिया। छापेमारी के दौरान एसओजी को नकली ताकत के इंजेक्शन मिले। जिसमें डिस्टील वाटर भरा हुआ था। युवाओं को ताकत का इंजेक्शन के नाम पर बेचा जा रहा है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है। दुकानदार युवाओं की जिंदगी के साथ कैसे खिलवाड़ कर थे। एसओजी की छापेमारी देर रात तक जारी रही।
छापा लगने से दोनों दुकानदार मौके से फरार हो गये। टीम ने दोनो के मकानों पर भी छापेमारी की गयी। जहां से नकली प्रोटीन को बरामद किया गया। वही छापा लगते ही खैरनगर के दुकानदारों में हड़कंप मच गया। कई दुकानदार दुकान का ताला मारकर फरार हो गये। आशंका व्यक्त की जा रही है। उन दुकानों पर नकली सप्लीमेंट बेचा जा रहा था।
 इतने बडे पैमाने में दुकानों पर नकली प्रोटीन व नकली ताकत के इंजेक्शन पकडे जाने के बाद ड्रग्स कंट्रोल विभाग की कलाई खुलती दिखाई दे रही है। खैरनगर की बात करें तो यहां पर 650 के आसपास मेडिकल स्टोर व थोक ब्रिकेता की दुकान है। यहां पर ड्रग्स इंस्पेक्टर प्रियंका चौधरी व पीयूष शर्मा की जिम्मेदारी है। दो इंस्पेक्टर होने के बाद इतनी बड़ी मात्रा में नकली सामान बेचा जाना विभाग की घोर लापरवाही है।