सड़क सुरक्षा  जागरूकता प्रतियोगिताओं का आयोजन

 सड़क सुरक्षा  जागरूकता प्रतियोगिताओं का आयोजन

 

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा।

सड़क सुरक्षा  जागरूकता प्रतियोगिताओं का आयोजन

 मेरठ।  शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, में जनपद स्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन  किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्राचार्य और अतिथियों द्वारा माँ शारदे के दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण से हुआ।कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय प्राचार्य और जनपद नोडल अधिकारी-सड़क सुरक्षा प्रो. अंजू सिंह ने की और समस्त अतिथियों का स्वागत करते हुए अध्यक्षीय उद्बोधन किया।

 कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित रहे क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी प्रो. ज्ञान प्रकाश वर्मा निर्णायक की भूमिका में भी रहे। विशिष्ट अतिथि और निर्णायक के रूप में मिशिका सोसायटी के संस्थापक अमित नागर परिवहन विभाग से सहायक परिवहन आयुक्त  अमिताभ चतुर्वेदी रहे।सड़क सुरक्षा पर क्विज प्रतियोगिता, भाषण प्रतियोगिता और पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन परिवहन विभाग के सौजन्य से महाविद्यालय द्वारा किया गया जिसमें मेरठ जनपद के विभिन्न महविद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने प्रतिभागिता की। जनपद  स्तरीय भाषण प्रतियोगिता का विषय था ‘सड़क सुरक्षा नियमों का अनुपालन: व्यवहारिक चुनौतियाँ’ । प्रतियोगिता में महाविद्यालय स्तर पर विजेता 15 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया जिसमें प्रथम स्थान कु. प्रत्यूषा शर्मा, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ  ने , द्वितीय स्थान कु. आरती चौहान, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ ने तथा तृतीय स्थान कु. सृष्टि सक्सेना, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ  ने प्राप्त किया। क्विज़ प्रतियोगिता के कड़े मुक़ाबले में प्रथम स्थान कु. जोया हुमेरा, राजकीय महाविद्यालय खरखौदा ने , द्वितीय स्थान कु. सानिया शहज़ाद, इस्माइल पीजी कॉलेज, मेरठ ने तथा तृतीय स्थान कु. काजल, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ  ने प्राप्त किया। पोस्टर प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने आकर्षक पोस्टर निर्मित किए जिनमें प्रथम स्थान कु. पूजा सैनी, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ की छात्रा ने , द्वितीय स्थान कु. जोया हुमेरा, राजकीय महाविद्यालय खरखौदा ने तथा तृतीय स्थान कु. उर्वशी, रघुनाथ गर्ल्स पीजी कॉलेज, मेरठ ने प्राप्त किया। समस्त अतिथियों ने मेरठ जनपद के विभिन्न महाविद्यालयों से आए प्रतिभागियों को सम्बोधित किया और शुभकामनाएँ दीं। कार्यक्रम का संयोजन व संचालन महाविद्यालय सड़क सुरक्षा नोडल अधिकारी प्रो. लता कुमार व परिवहन विभाग की ओर से श्री अमित तिवारी ने किया। क्विज प्रतियोगिता के आयोजन में प्रो. अनुजा गर्ग और डा. स्वर्णलता कदम, पोस्टर प्रतियोगिता के आयोजन में  डा. ज्योति चौधरी और डा. सोशल तथा भाषण प्रतियोगिता के आयोजन में डा. शालिनी और डा. उषा साहनी सहित डा. पूनम भंडारी ने विशेष योगदान दिया। मिशिका सोसायटी के सचिव व मुख्य यातायात प्रशिक्षक श्री सुनील कुमार शर्मा ने छात्राओं और एनसीसी कैडेट्स को सड़क सुरक्षा और यातायात नियमों की जानकारी प्रदान की। वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो. सुरेश जैन, प्रो. मोनिका चौधरी, डा. भावना सिंह, डा. पारुल मलिक, डा. आर.सी. सिंह, डा. ऋचा राणा, डा. मुनेश कुमार सहित विभिन्न प्राध्यापकों, यातायात प्रशिक्षुओं एवं अन्य महाविद्यालय से आये प्राध्यापकों की उपस्थिति महत्त्वपूर्ण रही।र पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन परिवहन विभाग के सौजन्य से महाविद्यालय द्वारा किया गया जिसमें मेरठ जनपद के विभिन्न महविद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने प्रतिभागिता की। जनपद  स्तरीय भाषण प्रतियोगिता का विषय था ‘सड़क सुरक्षा नियमों का अनुपालन: व्यवहारिक चुनौतियाँ’ । प्रतियोगिता में महाविद्यालय स्तर पर विजेता 15 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया जिसमें प्रथम स्थान कु. प्रत्यूषा शर्मा, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ  ने , द्वितीय स्थान कु. आरती चौहान, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ ने तथा तृतीय स्थान कु. सृष्टि सक्सेना, शहीद मंगल पांडे राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय, मेरठ  ने प्राप्त किया। आयोजन में प्रो. अनुजा गर्ग और डा. स्वर्णलता कदम, पोस्टर प्रतियोगिता के आयोजन में  डा. ज्योति चौधरी और डा. सोशल तथा भाषण प्रतियोगिता के आयोजन में डा. शालिनी और डा. उषा साहनी सहित डा. पूनम भंडारी ने विशेष योगदान दिया। मिशिका सोसायटी के सचिव व मुख्य यातायात प्रशिक्षक श्री सुनील कुमार शर्मा ने छात्राओं और एनसीसी कैडेट्स को सड़क सुरक्षा और यातायात नियमों की जानकारी प्रदान की। वरिष्ठ प्राध्यापक प्रो. सुरेश जैन, प्रो. मोनिका चौधरी, डा. भावना सिंह, डा. पारुल मलिक, डा. आर.सी. सिंह, डा. ऋचा राणा, डा. मुनेश कुमार सहित विभिन्न प्राध्यापकों, यातायात प्रशिक्षुओं एवं अन्य महाविद्यालय से आये प्राध्यापकों की उपस्थिति महत्त्वपूर्ण रही।