ऋषभ एकडेमी ने दी 7 वी की छात्रा को शारीरिक यातनाए

मेरठ बार के अधिवक्ता विशाल शर्मा की पुत्री हैं पीड़ित छात्राये।

ऋषभ एकडेमी ने दी  7 वी की छात्रा को शारीरिक यातनाए

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।

मेरठ

फीस जमा न करने पर दी छात्राओ को 4 घण्टे खड़ा रहने की सजा । चक्कर खाकर गिरी छात्राये हुई बेहोश।

मेरठ कैंट स्थित ऋषभ एकडेमी में 7 वी की छात्रा को फीस जमा न करने पर स्कूल जाते ही क्लास में नही बैठने दिया उनके साथ मारपीट की और 4 घण्टे खड़ा रहने की सजा दी। 4 घण्टे खड़ा रहने के कारण छात्राओ को चक्कर आगया और बेहोश होकर गिरपडी । आनन फानन में स्कूल ने छात्रओ की माता को फ़ोन कर सूचना दी । अधिवक्ता विशाल शर्मा मेरठ बार में वकील थे पिछली जुलाई में उनकी मृत्यु हो गयी ।अधिवक्ता की पत्नी ने बताया कि फीस जमा न कर पाने के कारण स्कूल ने मारपीट की और 4 घण्टे खड़ा रहने की सजा दी । छात्राओ की माता ने स्कूल पुहंच पुलिस को व चाइल्ड लाइन को सूचना दी ।

स्कूल नही दे सकता शारीरिक दण्ड ।

किशोर न्याय अधिनियम 2015 के बाद अब स्कूलों को किसी भी प्रकार का शारीरिक दंड देने का कोई अधिकार नही हैं ।

80,80(1) के अनुसार अपराध साबित होने पर संस्था को एक लाख रुपये का जुर्माना व तीन माह की सजा का हैं प्रावधान।

80(2) संबंधित शिक्षिका की बर्खास्तगी निशिचित अनिवार्य हैं।

80(3) जांच में सहयोग न करने पर 3 माह की सजा। व एक लाख रुपये जुर्माना।