एक पक्षीय कार्रवाई करने का आरोप में भाकियू ने कंकरखेडा थाना घेरा 

एक पक्षीय कार्रवाई करने का आरोप में भाकियू ने  कंकरखेडा थाना घेरा 

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा 

एक पक्षीय कार्रवाई करने का आरोप में भाकियू ने

कंकरखेडा थाना घेरा 

मेरठ। गुरूवार को  भारतीय किसान यूनियन (तोमर) ने कंकरखेड़ा थाने का घेराव किया। वे कार्यकर्ता के पारिवारिक विवाद में पहुंचे थे। उनका कहना है कि संबंधित दारोगा एक पक्षीय कार्रवाई कर रहा है। जिस वजह से किसान यूनियन के कार्यकर्ता का पुलिस के द्वारा उत्पीड़न किया जा रहा है। किसानों ने थाने के अंदर कई घंटे तक हंगामा किया। इसके बाद किसानों को थाना प्रभारी ने निष्पक्ष कार्रवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद किसान वापस चले गए।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सलाहकार चौधरी इंद्रजीत सिंह ने बताया कि ग्राम जेवरी में रहने वाला शौकीन भारतीय किसान यूनियन का कार्यकर्ता है। शौकीन की पैतृक संपत्ति 1500 गज है। वर्ष 2005 में शौकीन के भाई मोमिन व शोमीन का आपसी सहमति से समझौता हो गया था। जिसमें शौकीन के हिस्से में 430 गज जगह आई थी। जिसमें 170 गज जमीन रास्ते के लिए छोड़ दी गई थी। जबकि शौकीन के भाई शोमीन ने गांव में रहने वाले चंद्रपाल वाल्मीकि को जमीन बेच दी थी। शोमीन शराब पीने का आदी था।

शौकीन की मां नत्थो ने पावर ऑफ़ अटॉर्नी शौकीन के नाम कर दी। आरोप है कि शोमीन अपने भाई शौकीन के साथ अभद्र व्यवहार कर रहा है। वे शौकीन से गाली गलौज करता है। शौकीन ने संबंधित थाने में शिकायत पत्र दिया था। लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। जिस वजह किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने थाने का घेराव किया। उनका कहना है कि जब शोमीन ने अपनी जमीन अन्य व्यक्ति को बेच दी।

उसका पैतृक संपत्ति में कैसे हिस्सा हो सकता है। पुलिस का कहना है कि मामला जमीन से जुड़ा है। प्रशासनिक अधिकारी को मामले से अवगत करा दिया गया है। दोनों पक्षों को दस्तावेज लेकर आने के लिए कहा है। मामले की जांच का निष्पक्ष कार्रवाई की जाएगी।