निजी चिकित्सालय रजिस्टर में अंकित करेंगे प्रदान की गईं परिवार नियोजन सेवाओं का विवरण

निजी चिकित्सालय रजिस्टर में अंकित करेंगे प्रदान की गईं  परिवार नियोजन सेवाओं का विवरण

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा 

निजी चिकित्सालय रजिस्टर में अंकित करेंगे प्रदान की गईं

परिवार नियोजन सेवाओं का विवरण

सभी को दिये गये फैमिली प्लानिंग रिकॉर्ड रजिस्टर

नोएडा23 फरवरी 2024। सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों के साथ-साथ निजी चिकित्सालयों में भी परिवार नियोजन कार्यक्रम को बढ़ावा देने के प्रयास किये जा रहे हैं।  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुनील कुमार शर्मा ने निजी चिकित्सालयों को परिवार नियोजन सेवा में योगदान बढ़ाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने निजी चिकित्सालयों की ओर से प्रदान की जाने वाली परिवार नियोजन सेवाओं का विवरण रजिस्टर में अंकित करने के लिए कहा है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से पापुलेशन सर्विसेज इंटरनेशनल (पीएसआई इंडिया) के सहयोग से उन्हें रजिस्टर प्रदान किये गये हैं।

अपर शोध अधिकारी के.के. भास्कर ने बताया- फैमिली प्लानिंग रिकार्ड रजिस्टर में निजी चिकित्सालयों की ओर से परिवार नियोजन के लिए प्रदान की गई सेवाओं का विवरण अंकित किया जाएगा। कितनी महिलाओं ने इंट्रायूटेराइन कॉन्ट्रासेप्टिव डिवाइस (आईयूसीडी) की सेवा लीकितनी महिलाओं ने पोस्ट पार्टम इंट्रायूटेराइन कॉन्ट्रासेप्टिव डिवाइस (पीपीआईयूसीडी) पोस्ट अबॉर्शन इंट्रायूटेराइन  कॉन्ट्रासेप्टिव  डिवाइस  (पीएआईयूसीडी) लगवाईंकितनी महिलाओं की मिनीलेप विधि से, लेप्रोस्कोपिक विधि से नसबंदी हुई। इसके साथ ही प्रसव पश्चात नसबंदीगर्भपात के पश्चात नसबंदी सेवा प्रदान करने का विवरण दर्ज किया जाएगा। इमरजेंसी पिल्सकंडोमपुरुष नसबंदीगर्भनिरोधक गोली वितरण करने का भी ब्योरा रखा जाएगा। रजिस्टर में सेवा प्राप्त करने वाले का विवरण- नामपताकितने बच्चेसबसे छोटा बच्चा कब हुआकिस गर्भनिरोधक का इस्तेमाल किया गया आदि भी अंकित करना होगा। उन्होंने बताया- यह सभी विवरण नियत समय पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय को उपलब्ध कराया जाएगा।

पीएसआई इंडिया के फील्ड प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर विशाल सक्सेना ने बताया- संस्था जनपद में परिवार कल्याण कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग को सक्रिय सहयोग प्रदान करती है। इसके लिए समय-समय पर जागरूकता परक कार्यक्रम चलाए जाते हैं। विगत दिवस संस्था की ओर से निजी अस्पतालों को रिकार्ड रजिस्टर प्रदान किये गये। पीएसआई इंडिया की ओर से प्रयास किया जा रहा है कि सभी निजी चिकित्सालय अपनी प्रदत्त सेवाओं का विवरण रखेंगे। इससे जनपद में परिवार नियोजन के लिए प्रदान की गई सेवाओं की सटीक जानकारी स्वास्थ्य विभाग के पास उपलब्ध रहेगी। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (आरसीएच) डा. ललित कुमार, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. उबैद कुरैशी ने नोएडा सेक्टर 39 स्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में निजी चिकित्सालयों के प्रतिनिधियों को रजिस्टर प्रदान किये। इस अवसर पर जिला क्षय रोग अधिकारी डा. आरपी सिंह, अपर शोध अधिकारी के.के. भास्कर, पीएसआई इंडिया से विशाल सक्सेना मौजूद रहे।