कल्पना ज्ञान से अधिक महत्वपूर्ण है। ज्ञान सीमित है। कल्पना दुनिया को घेरती है।" 

कल्पना ज्ञान से अधिक महत्वपूर्ण है। ज्ञान सीमित है। कल्पना दुनिया को घेरती है।" 

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा 

कल्पना ज्ञान से अधिक महत्वपूर्ण है। ज्ञान सीमित है। कल्पना दुनिया को घेरती है।"  - अल्बर्ट आइंस्टीन

 राष्ट्रीय विज्ञान दिसव पर श्री चैतन्य टेक्नाे स्कूल में सांइस एक्सपो का आयोजन 

 मेरठ। मवाना रोड स्थित श्री चैतन्य टेक्नो स्कूल, ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाने के लिए एक साइंस एक्सपो का आयोजन किया।एक्सपो में कक्षा तीन से दसवीं तक के विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।  उन्होंने स्थिर और कार्यशील मॉडल प्रदर्शित किए, जिनका उपयोग वैज्ञानिक अवधारणाओं को पढ़ाने और सीखने के लिए किया जा सकता है।

 विद्यार्थियों ने आधुनिक व स्वदेशी तकनीक पर तैयार मॉडल और प्रोजेक्ट पर आधारित सीवी रमन के  जन्मदिवस पर विज्ञान दिवस पर विज्ञान प्रदर्शनी लगाई। इसमें  विद्यालय के छात्रों ने जटिल संरचना   पर आधारित संयंत्र के बेहतर तकनीक के जरिए आसान तरीके से मॉडल प्रस्तुत किए। अतिथि और अभिभावक स्कूली बच्चों की प्रतिभा और  हुनर देख प्रसन्न हुए। विद्यालय की प्रधानाचार्या  सरिता व एकेडमिक डीन अंकित अरोरा के नेतृत्व में विद्यालय प्रांगण में प्रदर्शनी का शुभारम्भ  अमन कुमार, एच ओ डी, केमिकल इंजीनियरिंग विभाग, एससीआरईटी, (चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ)जी ने फीता काटकर किया।इस अवसर पर विद्यालय मे विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। जिस मे विद्यार्थियो ने विभिन्न वैज्ञानिको के वेश धारण कर उनके प्रमुख अविष्कारो  के विषय मे अपने विचार प्रकट किए कुछ प्रयोग भी किए। 

 विज्ञान  पर आधारित  प्रदर्शनी में बच्चों के बनाए मॉडल ने अतिथियों को खूब प्रभावित किए। इनमें रेनवाटर डिटेक्टर , सेफ्टी सौर ऊर्जा, सैनिटाइजर मशीन, स्मार्ट सिटी, वाटर  साईकिल, हाइड्रोलिक लिफ्ट, सोलर कुकर, एंटी ग्रेबेटी व्हील, एसिड रेन, हार्ट डबल सरकुलेशन वर्किंग मॉडल, हाइड्रोजन  ,एयर फ्रेशर रॉकेट मॉडल आदि आकर्षक मॉडल थे। अमन कुमार जी ने कहा कि विज्ञान का मतलब है कि उक्त विषय में विशेष जानकारी प्राप्त  करना। साथ ही इस प्रकार के आयोजन लगातार होते रहने चाहिए ताकि स्टूडेंट्स की प्रतिभा निखर सके और वह नवाचार की ओर अग्रसर होकर अपनी प्रतिभा को पहचान कर सकारात्मक सोच को लेकर निरंतर आगे बढ़ते रहे।  निर्णायक मंडल तथा आए हुए अभिभावक गणों के द्वारा सभी प्रतिभागी छात्र-छात्राओं के मॉडल की जानकारी तथा उनकी गुणवत्ता के बारे में उन्हीं से जाना। इस आधार पर सभी विद्यार्थियों को मुख्य अतिथि के द्वारा प्रमाण पत्र  देकर पुरस्कृत भी किया गया। प्रतियोगिता के आयोजन में सभी एकेडमिक  डीन अंकित अरोरा  अंकित रावत, विजया सिंह व प्रतिभा गंगवार , एवं समस्त शिक्षकगण का योगदान रहा। सभी ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया।  विद्यालय की प्रधानाचार्या  सरिता  ने सभी  विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया एवं उनके उज्जवल भविष्य की मंगलकामना की।