9.87 लाख बच्चों,किशोरों-किशोरियों को खिलाई गयी  पेट के  कीड़े निकालने की दवा

9.87 लाख बच्चों,किशोरों-किशोरियों को खिलाई गयी  पेट के  कीड़े निकालने की दवा

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा

9.87 लाख बच्चों,किशोरों-किशोरियों को खिलाई गयी  पेट के  कीड़े निकालने की दवा

 बीडीएस इंटरनेशनल स्कूल से हुई अभियान की शुरुआत 

दवा खाने से छूटे बच्चों को 17 अगस्त को मॉप अप राउंड में किया जाएगा कवर

 मेरठ, 10 अगस्त 2023।  कृमि मुक्ति दिवस पर बृहस्पतिवार को जनपद में स्कूलों व आंगनबाड़ी केंद्रों  पर बच्चों व किशोर- किशोरियों को पेट से कीड़े निकालने की दवा एल्बेंडाजोल खिलाई गई। अभियान की शुरुआत बीडीएस इंटरनेशनल स्कूल से हुई। छात्र छात्राओं को चिकित्सकों की मौजूदगी में दवा खिलाई गयी। पहले रांउड में कुल 9.87 लाख बच्चों- किशोर व किशोरियों को दवा खिलाई गयी। 17 अगस्त को मॉप अप राउंड चलाया जाएगा, जिसमें बृहस्पतिवार को दवा खाने से छूटे बच्चों- किशोर -किशोरियों को कवर किया जाएगा। 

 मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अखिलेश मोहन ने कहा -सरकार का प्रयास है कि बच्चों- किशोर व किशोरियों का स्वास्थ्य बेहतर रहे। इसी को देखते हुए कृमि  मुक्ति कार्यक्रम चलाया जाता है। उन्होंने बताया- दवा खाने से पेट के कीड़े निकल जाते हैं। जनपद में स्कूलों व आंगनबाड़ी केन्द्रों पर करीब  17.93 लाख बच्चों-किशोरों को एल्बेंडाजोल खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम के नोडल अधिकारी आर के सिरोहा ने बताया कि पहले राउंड में आंगनबाड़ी व स्कूलों में 9.87 लाख बच्चों को एल्बेंडाजोल गोली खिलाई गयी। बाकी बचे हुए बच्चों-किशोर व किशोरियों को 17 अगस्त को गोली खिलाई जाएगी। जिला समुदाय प्रक्रिया प्रबंधक  हरपाल सिंह  ने बताया -एक से दो वर्ष तक के बच्चों को आधी गोली पानी से खिलाई गयी।  जबकि दो से 19 वर्ष तक के बच्चों और किशोर- किशोरियों को एक गोली खिलाई गयी।