काशी में बज रहा विकास का डमरू : पीएम मोदी

काशी में बज रहा विकास का डमरू : पीएम मोदी

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा 

काशी में बज रहा विकास का डमरू : पीएम मोदी

- पीएम के भोजपुरी अँदाज पर झूम उठी वाराणसी की जनता
वाराणसी (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी में हैं। शुक्रवार को पीएम मोदी अमूल प्लांट सहित 13202 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत भोजपुरी बोलकर की। उन्होंने मंच से कहा कि 'बाबा जौन चाहेलन उके के रोक पावेला। इसलिए काशी में सबसे पहले कहा जाता है, नम: पार्वती पतये हर हर महादेव। इस पर वहां पर मौजूद सभी जनता हाथ उठाकर 'नम: पार्वती पतये हर हर महादेव' के नारे लगाई।
पीएम मोदी ने कहा कि हम सब तो निमित्त मात्र हैं, काशी में करने वाले तो महादेव हैं, जहां महादेव की कृपा हो जाती है, वह धरती ऐसे ही संपन्न हो जाती है। काशी में विकास का डमरू बज रहा है। एक समय था, जब भारत की समृद्धि गाथा पूरे विश्व में कही जाती थी। इसके पीछे भारत की केवल आर्थिक ताकत ही नहीं थी। इसके पीछे हमारी सांस्कृतिक समृद्धि भी थी, सामाजिक और आध्यात्मिक समृद्धि भी थी। पूरे देश से और दुनिया के कोने-कोने से भी ज्ञान, शोध और शांति की तलाश में लोग काशी आते हैं। हर प्रांत, हर भाषा, हर बोली, हर रिवाज के लोग काशी आकर बसे हैं, जिस स्थान पर ऐसी विविधता होती है, वहीं नए विचारों का जन्म होता है।
पीएम मोदी ने कहा ‘काशी तो सर्वविद्या की राजधानी है, आज काशी का वो सामर्थ्य और स्वरूप फिर से संवर रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि जिस काशी को काल से भी प्राचीन कहा जाता है, उसकी पहचान को युवा पीढ़ी जिम्मेदारी से सशक्त बना रही है। ये पूरे भारत के लिए गौरव की बात है। पिछले 10 वर्षों में काशी में विकास के जो कार्य हुए हैं। काशी के बारे में संपूर्ण जानकारी पर आज यहां दो बुक भी लांच की गई है। पिछले 10 वर्ष में काशी ने विकास की जो यात्रा तय की है, उसके हर पड़ाव और यहां की संस्कृति का वर्णन इस बुक में भी किया गया है।