आईआईएमटी आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय में विद्यार्थियों को प्रदान कीं संस्कृत की पुस्तकें

आईआईएमटी आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय में विद्यार्थियों को   प्रदान कीं संस्कृत की पुस्तकें
दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।
आईआईएमटी आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय में विद्यार्थियों को
प्रदान कीं संस्कृत की पुस्तकें

मेरठ। आईआईएमटी विश्वविद्यालय परिसर अर्न्तगत आईआईएमटी आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय में केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय नई दिल्ली के माध्यम से आयोजित अनौपचारिक संस्कृत शिक्षण कार्यक्रम में नवीन बैच को संस्कृत की पुस्तकें प्रदान की गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. आदित्य शर्मा जी (उपाचार्य, फिजिक्स, आईआईएमटीयू, बी. टेक विभाग) ने कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्वलित कर किया। कार्यक्रम में आयुर्वेद महाविद्यालय के प्राचार्य वैध सुजीत कुमार दलाई ने छात्रों को संस्कृत शिक्षण के लिए प्रोत्साहित किया। उपाचार्य डॉ. चित्रांशु सक्सेना ने कहा कि आयुर्वेद में पारंगता प्राप्त करने के लिये संस्कृत का ज्ञान अति आवश्यक है। सम्पूर्ण कार्यक्रम केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय के अनौपचारिक संस्कृत शिक्षक डॉ. ईशेन्द्र कुमार पाराशर की देखरेख में हुआ । कार्यक्रम की महती भूमिका में डॉ. प्रदीप कुमार रहे। कार्यक्रम में प्राचीन तथा नवीन बैच के छात्रों ने संस्कृत के श्लोकों के माध्यम से अतिथियों का स्वागत किया। धन्यवाद ज्ञापन अनौपचारिक संस्कृत शिक्षक डॉ. ईशेन्द्र कुमार पाराशर जी ने किया। कार्यक्रम का समापन एकता मंत्र तथा प्रसाद वितरण के साथ पूर्ण हुआ। कार्यक्रम आयोजन में डॉ. अमोल, डॉ. मीना टांडले, डॉ. सुमन मेघवाल, डॉ. मोनिका शर्मा, डॉ. साजिया खान, डॉ. अक्षिता, डॉ. कंचन, डॉ. मीनू, डॉ. तमन्ना का विशेष योगदान रहा।