चार माह पूर्व मिले शव का पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा 

चार माह पूर्व मिले शव का पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा 

दी न्यूज एशिया समाचार सेवा 

चार माह पूर्व मिले शव का पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा 

 हिस्ट्रीशीटर ने  मंदबुद्धि का अपहरण का हरियाणा से अपहरण कर की थी  हत्या 

पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर समेत उसके साथी को किया गिरफ्तार 

मेरठ। थाना  खरखोदा क्षेत्र के  जंगल में चार माह पूर्व मिले अज्ञात युवक के शव का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। हिस्ट्रीशीटर ने मुकदमों की तारीख और पुलिस से बचने के लिए हरियाणा के मंदबुद्धि युवक को उसके चेहरे पर ताबड़तोड़ वार करते हुए मौत के घाट उतार दिया था।हिस्ट्रीशीटर की पत्नी मृतक युवक की पहचान बार-बार अपने पति के रूप में कर रही थी पुलिस को शक हुआ। और आरोपी हिस्ट्री सीटर के नंबर को सर्विलांस पर लेकर पुलिस ने हत्या का सनसनीखेज खुलासा करते हुए, हिस्ट्रीशीटर में उसके साथी को गिरफ्तार करते हुए मृतक युवक की पहचान हरियाणा के मंदबुद्धि युवक के रूप में की है।

रविवार को पुलिस लाइन में मीडिया को जानकारी देते हुए एसएसपी रोहित सिंह साजवान ने बताया कि चार माह पूर्व खरखौदा थाना क्षेत्र स्थित गांव उलधन में एक अज्ञात शव मिला था। मृतक युवक द्वारा पहने लोअर की जेब से मिले कुछ कागजातों के आधार पर जानकारी मिली कि मृतक हापुड़ स्थित हाफिजपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला हिस्ट्रीशीटर दिलशाद है।पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। मृतक युवक की पहचान हिस्ट्रीशीटर दिलशाद की पत्नी बार-बार अपने पति के रूप में कर रही थी जिसके चलते पुलिस को हिस्ट्रीशीटर दिलशाद की पत्नी पर शक हुआ इसी दौरान खरखौदा थाना पुलिस ने एक टीम का गठन करते हुए सर्विसलांस टीम की मदद से हिस्ट्रीशीटर के नंबर को सर्विसलांस पर लेकर पल-पल की जानकारी लेनी शुरू कर दी।

करीब 3 महीने से पुलिस हिस्ट्रीशीटर को वॉच कर रही थी। हिस्ट्रीशीटर के बार-बार नंबर चेंज करने से पुलिस भ्रमित होने लगी एसएसपी ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि आरोपी हिस्ट्रीशीटर ने मुकदमों की तारीख और पुलिस से बचने के लिए अपने साथी मुशाहिद और रिहान के साथ मिलकर एक प्लानिंग बनाई।किसी व्यक्ति को मारकर उसका चेहरा बिगाड़ कर फेंक दिया।एसएसपी ने  बताया कि हिस्ट्रीशीटर दिलशाद ने मुसाहिद पुत्र इरसाद व रिहान पुत्र इस्लाम निवासीगण तोडी थाना भोजपुर जिला गाजियाबाद के साथ मिलकर योजना बनाई कि किसी व्यक्ति को मारकर उसका चेहरा बिगाड कर डाल दिया जायेगा। तथा उसकी पहचान दिलशाद के रूप में करा दी जाएगी।

पुलिस के अनुसार पहले आरोपियों ने गांव तोड़ी निवासी राशिद को चुना राशिद के न मिलने पर हिस्ट्रीशीटर दिलशाद ने नूह हरियाणा जाकर आकाश नाम के एक युवक जो मंदबुद्धि था का अपहरण कर लिया और अपने साथ लाकर रिहान व मुसाहिद के साथ मिलकर उलधन के जंगल में छुरी से आकाश की हत्या कर दी। शव को उलधन के जंगल में फेंक दिया।मृतक की शिनाख्त दिलशाद के रूप में हो जाए इसलिए दिलशाद द्वारा अपने नाम के कुछ कागजात मृतक के लोवर की जेब में डाल दिए, और चाकू से ताबड़तोड़ वारकर उसके चेहरे को बिगाड़ दिया ताकि उसकी पहचान न हो सके गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस ने हत्या में प्रयोग की गई छुरी भी बरामद कर ली है।

आरोपी रिहान की लोकेशन थाना खगरोन जिला खन्डवा मध्य प्रदेश में मिली है। एसएसपी ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीम रवाना की जा चुकी है। उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने हत्या का सनसनी खेल खुलासा करते हुए आरोपियों को जेल भेजने की तैयारी शुरू कर दी है। वही पुलिस ने मृतक की पहचान आकाश प्रजापति केयर ऑफ शकुन्तला निवासी वार्ड नं0 3 नूह जिला नूह हरियाणा के रूप में की है।