लखनऊ के दो ब्लड बैंकों में एसटीएफ की छापेमारी

लखनऊ के दो ब्लड बैंकों में एसटीएफ की छापेमारी

लखनऊ के दो ब्लड बैंकों में एसटीएफ की छापेमारी

 दी न्युज़ एशिया समाचार सेवा ।

संचालक समेत सात गिरफ्तार

लखनऊ।
एसटीएफ और ड्रग विभाग की संयुक्त टीम ने गुरुवार को ठाकुरगंज के तहसीनगंज में स्थित मिडलाइफ चैरिटेबल ब्लड बैंक और कृष्णानगर की नारायणी ब्लड बैंक में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान राजस्थान से तस्करी कर लाया गया 302 यूनिट घटिया मानव रक्त (ब्लड) बरामद किया गया है। इसके साथ ही दोनों ब्लड बैंक के संचालक और मुख्य तस्कर समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है।
यह घटिया खून लखनऊ के अलावा हरदोई, उन्नाव, बहराइच, कानपुर और फतेहपुर जनपद के अस्पतालों और ब्लड बैंकों में भी सप्लाई किया जा रहा था। सूत्रों के मुताबिक, गिरोह का नेटवर्क सात राज्यों में फैला है।
एसटीएफ के डिप्टी एसपी प्रमेश कुमार शुक्ल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों में मुख्य तस्कर नौशाद अहमद भी शामिल है। वह कुशीनगर के रामकोला पकटरी टोला का रहने वाला है। इसके अलावा चौक तोप दरवाजा चौपटिया दरगाह का असद, मिडलाइफ ब्लड बैंक का संचालक मो. अम्मार, नारायणी ब्लड बैंक का मालिक अजीत दुबे निवासी इद्रलोक कालोनी, उन्नाव के फतेहपुर चौरासी हमीद पट्टी का रोहित, फैजुल्लागंज रुकमणीपुरम का करन मिश्र, गुडंबा कल्याणपुर राजीवनगर का रहने वाला टैक्नीशिनयन संदीप कुमार है।