धीमी गति से आयुष्मान कार्ड बनाने को लेकर सीडीओ ने जताई नाराजगी

 धीमी गति से आयुष्मान कार्ड बनाने को लेकर सीडीओ ने जताई नाराजगी

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा।

स्वास्थ्य सेवाओ की नियमित मॉनीटरिंग किया जाना सुनिश्चित करे-सीडीओ  
 जिस स्थान पर तैनाती हो वही निवास करें अधिकारी

विकास भवन सभागार में सीडीओ की अध्यक्षता में संपन्न हुयी जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक
मेरठ । गुरुवार को  विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी शशांक चौधरी की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक की गयी। बैठक में स्वास्थ्य कार्यों की बिन्दुवार समीक्षा करते हुये सीडीओ द्वारा निर्देशित किया गया कि प्रगति के आंकडो को पोर्टल पर समय से और सही अंकित करें जिससे कि प्रत्येक चिकित्सीय कार्य की समीक्षा ठीक ढ़ग से की जा सके तथा धीमी प्रगति वाली योजनाओ में संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय करते हुये लक्ष्य के अनुरूप शत.प्रतिशत प्रगति लाना सुनिश्चित किया जाये। आयुष्मान भारत योजनार्न्तगत कार्ड की धीमी गति पर सीडीओ ने कडी नाराजगी जताते हुए गति में तेजी लाने के निर्देश दिये।
सीडीओ द्वारा आयुष्मान भारत योजनान्तर्गत कार्ड धीमी गति से बनाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये निर्देशित किया कि संबधित अधिकारी ब्लॉकवार समीक्षा करते हुये कार्यो में प्रगति लाया जाना सुनिश्चित करे साथ ही कार्ड बनाने में लापरवाही एवं औसत से कम प्रगति पाये जाने पर संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।


सीडीओ द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि यह सुनिश्चित किया जाये कि जनपद में समस्त एमओआईसी तैनाती स्थल पर ही निवास करें तथा स्वास्थ्य सेवाओ की नियमित मॉनिटरिंग किया जाना सुनिश्चित करें एवं प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, परिवार नियोजन, कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम,राष्ट्रीय अंधता निवारण कार्यक्रम आदि की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।
सीएमओ ने कहा कि आशा कार्यकत्री घर-घर जाकर  गृह प्रसव की संख्या एकत्र कर संबंधित अधिकारी को अवगत कराया जाना सुनिश्चित करें तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर गर्भवती महिलाओं की दिन.प्रतिदिन घटती संख्या पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि आशाएं गर्भवती महिलाओं को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर प्रसव कराये जाने हेतु प्रेरित करें। इस अवसर पर सीएमओ डा. अखिलेश मोहन, ए सीएमओ डा विश्वास चौधरी , डा अशोक ,  एमओआईसी सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।