ग्राम चंदसारा के अंकित त्यागी हत्या प्रकरण में मेरठ न्यायालय ने किया सभी अभियुक्तगण को बा इज़्ज़त बरी 

ग्राम चंदसारा के अंकित त्यागी हत्या प्रकरण में मेरठ न्यायालय ने किया सभी अभियुक्तगण को बा इज़्ज़त बरी 

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा।

ग्राम चंदसारा के अंकित त्यागी हत्या प्रकरण में मेरठ न्यायालय ने किया सभी अभियुक्तगण को बा इज़्ज़त बरी 

दिनांक 04.06.2019 को अंकुर त्यागी ने अपने भाई अंकित  त्यागी की गुमशुदगी की सूचना थानाध्यक्ष परतापुर मेरठ को दी के दिनांक 03.06.2019 समय 4 बजे अंकित घर से अपनी कम्पनी जेएस०बी०कताई मिल पर आया था जो वापस घर नहीं पहुंचा है। वहीं कुछ पता नहीं चल रहा है और उसका मोबाईल नम्बर भी स्विच ऑफ आ रहा है। सफेद रंग की स्कूटी एक्सिस  संख्या UP 14 CB 5424 हैं। 
गुमशुदगी बाद में हत्या में बदल गयी तथा वादी पक्ष ने हत्या में नामजदगी करते हुए ग्राम काशी थाना परतापुर के महराज पुत्र फुरकान व इरफान पुत्र ख़ुर्शीद व ग्राम ईकड़ी थाना सरधना के  बबलू पुत्र शाहिद उर्फ अच्छी व काशी थाना परतापुर की हिना पतिनि महराज को नामजद किया था ।  इनके विरुद्ध  302/201/120B & 364 IPC मैं थाना परतापुर में मुकदमा संख्या 383/2019 दर्ज किया गया था 

उपरोक्त मुकदमा सत्र परिक्षण संख्या 691/2019 न्यायालय अपर सत्र न्यायाधीश संख्या 04 मेरठ के यहां हुवा जिसमें अभियोजन पक्ष सभी अभियुक्तगण को पुर्ण रूपसे अपराधी साबित नही कर सका इस प्रकार अभियोजन पक्ष युक्तियुक्त संदेह से परे यह साबित करने में असफल रहा की अभियुक्तगण द्वारा मृतक को आपराधिक षणयंत्र के तहत अपहरण कर मृतक की हत्या की गई। परिणाम स्वरूप अभियुक्तगण संदेह का लाभ पाने  के अधिकारी हैं ।

न्यायालय 04 मेरठ ने मामले में अन्त धारा 302, 201 120बी, 364 IPC के अपराध से संदेह का लाभ देते हुये दोषमुक्त  किया

अभियुक्तगण मेहराज पुत्र पुरकान, इरफान पुत्र खुर्शीद बबलू पुत्र शाहिद @ अच्छी एवं श्रीमती हिना पत्नी महराज प्रत्येक की ओर से धारा 437 (A ) crpc के अंतर्गत अंकन 50,000 (पचास हजार रूपये के व्यक्तिगत बंधपत्र व दो दो प्रतिभू  दाखिल किये जा चुके है। अभियुक्तगण प्रत्येक को निर्देशित किया है कि वे अपील होने की स्थिति में अपीलीय न्यायालय के समक्ष उपस्थित हो उक्त बंधपत्र  एवं जमानतनामे छह माह के लिये प्रभावी होंगे।

अभियोजन पक्ष ने  कुल 09 गवाह पेश किए ।

अभियुक्तगण की और से वरिष्ठ अधिवक्ता अनुज कुमार शर्मा  रहे ।