अमरोहा के गौशाला में विषैला चारा खाने से 25गायों की दर्दनाक मौत  

अमरोहा के गौशाला में विषैला चारा खाने से 25गायों की दर्दनाक मौत  

दी न्यूज़ एशिया समाचार सेवा ।

  ग्राम विकास अधिकारी पर गिरी गाज ,संस्पेड, चारा देने वाले किसान पर एफआईआर दर्ज 

अमरोहा । गुरूवार को विकासखंड हसनपुर के साथलपुर गांव की गौशाला में २५ पशुओं की दर्दनााक मौत हो गयी। एक साथ इतने सारे पशुओं की मौत होने से पूरे जिले में हडकंप मच गया। आनन फानन में डीएम एंव एसएसपी समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। बीमार पशुओं की चिकित्सकों की टीम युद्घ स्तर पर उपचार करने में जुटी है। वही जिलाधिकारी बालकृष्ण त्रिपाठी ने मामले का संज्ञान में लेते हुए ग्राम विकास अधिकारी गौशाला के सेक्रेटरी को तत्काल प्रभाव से संस्पेड कर दिया है। वही पश्ुाओं को चारा देने वाले किसान ताहिर  के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी गयी है। हिन्दु संगठनों में इस घटना को लेकर भारी आक्रोश है। 

 साथलपुर की गौशाला में कुल 188 पशु पंजीकृत है। बुधवार को गौशाला में काम करने वाले श्रमिकों ने चारा विक्रेता ताहिर से चारा खरीदा था। गुरूवार को काटे गये चारा खाने से गौशाला के पशु बीमार होने लगे। जब तक गौशाला के लोग समझ पाते तब तक 25 गाय काल के गाल में समा गये। बची हुई गायों को तडपता देख गौशाला में हडकंप मच गया। आनन फानन में अधिकारियों को घटना की जानकारी दी गयी। एक साथ 25 गायों की मौत की खबर लगते ही डीएम बीके तित्राठी एसडीएम सुधीर कुमार पशुचिकित्कों के साथ आलाधिकारी घटना स्थल की रवाना हुए। पुश चिकित्सकों की टीम ने युद्घ स्तर बीमार पशुओं को उपचार आरंभ किया। डीएम ने स्वंय घटना स्थल का निरीक्षण करने के उपरांत तत्काल चारा देने वाले ताहिर के खिलाफ एफआईआर कर गिरफ्तार करने के आदेश दिये। डीएम ने डयूटी में लापरवाही बरतने पर ग्राम विकास अधिकारी मौ. अनस तत्काल प्रभाव से संस्पेड कर दिया। बीमार पशुओं का इलाज मंडलीय व जिले की टीम के विशेषज्ञ द्वारा युद्ध स्तर पर किया जा रहा है दवाएं पूरी तरह से उपलब्ध हो गई हैं दवाओं की कमी नहीं है । पशुओं के स्वास्थ्य में सुधार भी हो रहा है पशुओं को दिए गए चारे में फूड प्वाइजन मिलाने  की जानकारी मिल रही है  । अभी तक चारा दूसरे किसान से लिया जाता था आज ही ताहिर किसान के खेत से  बाजरे का हरा चारा आया था  जिसको  सुबह खिलाने से यह घटना हुई है अभी तक 25 पशुओं की मृत्यु हुई है।  वही पुलिस ने एफआईआर दर्ज की चारा देने वाले ताहिर की तलाश आरंभ कर दी है। इसके लिये कई टीमों को लगाया गया है। 

 हिन्दु संगठनों ने जताया विरोध 

 एक साथ गौशाला के 25 पशुओं की मौत होने के बाद हिन्दु संगठन में भारी आक्रोश है। उन्होंने साजिश की आंशका जताई है।  जिलाधिकारी बीके तित्राठी का कहना है चारा खाने से पशुओं की मौत हुई है। मामले की गंभीरता से जांच पडताल की जा रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कडी से कडी कार्रवाई जाएगी। फिलहाल पशुओं को उपचार युद्घ स्तर पर किया जा रहा है।