मिशन शक्ति अभियान के तहत सरकार कर रही महिलाओं बालिकाओं को जागरूक

मिशन शक्ति अभियान के तहत सरकार कर रही महिलाओं बालिकाओं को जागरूक
Pics from Bulandshahar police twitter Account

दी न्युज़ एशिया समाचार सेवा ।

"मिशन शक्ति अभियान" 

बुलंदशहर ।  

आज दिनाँक 02/07/2022 को शासन के निर्देशों के क्रम में बालिकाओं/छात्राओं एवं महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराध (जैसे दुष्कर्म, अपहरण, छेड़खानी, चैन स्नैचिंग इत्यादि) घटनाओं के दृष्टिगत एक समग्र अभियान “मिशन शक्ति " चलाया गया । बालिकाओं/छात्राओं एवं महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों के प्रभावी रोकथाम एवं अभियान को सफल बनाए जाने हेतु जनपद के सभी थानों में गठित एंटी रोमियो स्क्वायड टीमों द्वारा अपने-अपने थाना क्षेत्रों में पडने वाले स्कूल/कॉलेजों, शॉपिंग मॉल, मुख्य चौराहों, मार्गों, बाजारों, पार्को, भीड़भाड़ वाले इलाकों व मंदिरों के आस-पास इत्यादि जहां पर महिलाओं/बालिकाओं का आवागमन अधिक रहता है, पर प्रभावी रूप से निरंतर पैदल गस्त एवं चेकिंग की जा रही है तथा असामजिक तत्वों, शोहदों, मनचलों से पूछताछ कर शख्त हिदायत दी जा रही है जिससे महिलाएं/ बालिकाएं सुरक्षा का भाव महसूस कर सकें। साथ ही गांव-गांव में चौपाल लगाकर भी महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक किया जा रहा है।

जैसे विभिन्न हेल्प लाइन नंबर, महिला हेल्प डेस्क, एंटी रोमियों स्क्वायड, यूपी-112, वूमेन पावर लाइन 1090 की जानकारी दी गयी ।

मिशन शक्ति का उद्देश्य

जनपद के विभिन्न सार्वजनिक स्थलों जैसे चौराहों, बाजारों, मॉल्स, कॉलेज, कोचिंग संस्थानों, पार्कों, बस स्टैण्ड / रेलवे स्टेशन व अन्य सार्वजनिक स्थलों को असामाजिक तत्वों, शोहदों से मुक्त कराना है तथा महिलाओं, छात्राओं एवं बालिकाओं को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराना है जिससे महिलाओं, छात्राओं एवं बालिकाओं में सुरक्षा एवं विश्वास की भावना बनी रहे तथा महिलाओं एवं छात्राओं के साथ राह चलते छेड़खानी, अश्लील प्रदर्शन एवं अभद्र टिप्पणियां आदि घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सके।